भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल के चिल्ड्रन वार्ड में लगी आग

भोपाल, राजधानी भोपाल के हमीदिया अस्पताल में बने कमला नेहरू हॉस्पिटल में सोमवार रात करीब 9 बजे आग लग गई। आग तीसरी मंजिल पर स्थित पीडियाट्रिक विभाग में लगी। इसमें 4 नवजात बच्चों की मौत हो गई।

भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल के चिल्ड्रन वार्ड में लगी आग

हादसे में 4 बच्चों की मौत
मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने दिए जांच के आदेश
प्रत्येक मृतक के माता- पिता को 4 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा
मेट्रो मीडिया ब्यूरो
भोपाल, राजधानी भोपाल के हमीदिया अस्पताल में बने कमला नेहरू हॉस्पिटल में सोमवार रात करीब 9 बजे आग लग गई। आग तीसरी मंजिल पर स्थित पीडियाट्रिक विभाग में लगी। इसमें 4 नवजात बच्चों की मौत हो गई। इनमें तीन की मौत दम घुटने से हुई है। तीन घंटे की मशक्कत के बाद देर रात साढ़े 12 बजे फायर ब्रिगेड और पुलिस की टीम ने आग पर काबू पाया। हताहतों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। मुख्यरमंत्री शिवराज सिंह चौहान घटना की उच्च स्तरीय जांच के निर्देश दिए हैं। जांच एसीएस लोक स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मोहम्मद सुलेमान करेंगे। बच्चों के परिजनों को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। ऐसे में बच्चों को ढूंढने के लिए अफरा-तफरी मच गई है।
मौके पर पहुंचे मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि वार्ड में 40 बच्चे थे, जिनमें 36 को सुरक्षित निकाल लिया गया है। 4 बच्चों को नहीं बचाया जा सका। मंत्री ने बताया कि परिजनों को 4-4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 3 बच्चों की मौत की जानकारी दी थी। उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए मामले की जांच के आदेश दिए हैं।
हादसे के पीछे अलग-अलग वजह बताई जा रही है। कुछ ने सिलेंडर या वेंटिलेटर में ब्लास्ट होना बताया है। वहीं शॉर्ट सर्किट की भी आशंका से इनकार नहीं किया जा रहा।

पहले भी लगी थी आग
हमीदिया अस्पताल के कैंपस में इससे पहले भी 7 अक्टूबर आग लगने की घटना सामने आई थी। यह घटना ठेकेदार के स्टोर रूम में हुई थी। फायर ब्रिगेड की पांच गाड़ियों ने मिलकर एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया था। इस घटना में कोई भी हताहत नहीं हुआ था।